ਨਵਰਾਤਰੀ 2019: ਨਵਰਾਤਰੀ ਵਿਚ ਸਿਹਤ ਤੰਦਰੁਸਤ ਰਹੇਗੀ, ਜਦੋਂ ਇਨ੍ਹਾਂ 5 ਚੀਜ਼ਾਂ ਨੂੰ ਖੁਰਾਕ ਵਿਚ ਸ਼ਾਮਲ ਕੀਤਾ ਜਾਵੇਗਾ


ਨਵਰਾਤਰੀ 2019: ਨਵਰਾਤਰੀ ਵਿਚ ਸਿਹਤ ਤੰਦਰੁਸਤ ਰਹੇਗੀ, ਜਦੋਂ ਇਨ੍ਹਾਂ 5 ਚੀਜ਼ਾਂ ਨੂੰ ਖੁਰਾਕ ਵਿਚ ਸ਼ਾਮਲ ਕੀਤਾ ਜਾਵੇਗਾ

ਨਵਰਾਤਰੀ 2019 ਨਵਰਾਤਰੀ ਵਿਚ, 9 ਦਿਨਾਂ ਦੇ ਵਰਤ ਦੌਰਾਨ ਕੀ ਖਾਣਾ ਚਾਹੀਦਾ ਹੈ ਜੋ beautyਰਜਾ ਨਾਲ ਸੁੰਦਰਤਾ ਬਣਾਈ ਰੱਖਦਾ ਹੈ. ਅਜਿਹੀ ਸਥਿਤੀ ਵਿੱਚ ਤੁਸੀਂ ਇਸਨੂੰ ਸ਼ਾਮਲ ਕਰ ਸਕਦੇ ਹੋ.

ਨਵਰਾਤਰੀ 2019: यह तो हम सभी जानते ही हैं कि शरीर को स्वस्थ और सुंदर रखने में हमारा खानपान महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। हेल्थ व ब्यूटी एक्सप‌र्ट्स का कहना है कि हम अपने भोजन में कुछ खास खाद्य पदार्थो को शामिल करके हमेशा नौजवां रह सकते हैं। 29 अक्टूबर से नवरात्र शुरू हो रहे हैं। इस दौरान आपका खानपान ऐसा हो कि आप सेहतमंद भी रहें साथ ही सौंदर्य भी बरकरार रहे। आइए जानते हैं इसके बारे में…

1. दही

यह तो हम सभी जानते ही हैं दही का सेवन करने से हमारा इम्यून सिस्टम मजबूत होता है साथ ही हमारे शरीर को विभिन्न प्रकार की शारीरिक परेशानियों से भी छुटकारा मिलता है। इसमें पाए जाने वाले हेल्दी बैक्टीरिया हमारे पाचनतंत्र को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। दही का सेवन करने से न केवल शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने में मदद मिलती है, बल्कि यह सौंदर्य बढ़ाने में भी सहायक होता है। इसमें विभिन्न प्रकार के सूखे मेवे जैसे काजू, बादाम, किशमिश या विभिन्न प्रकार के फल काटकर डाल सकती हैं।

नवरात्री में खाने के लिए इन रोस्टेड मखानों को जरूर करें ट्राई

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

यह भी पढ़ें

2. दूध

दूध को सेहत का साथी यूं ही नहीं कहा जाता है। दूध में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम होने के साथ-साथ विटामिन बी, डी व अल्फा हाईड्रॉक्सी एसिड्स और कई अन्य एंटीऑक्सीडेंट्स भी मौजूद होते हैं। यह त्वचा को मॉइश्चराइज करने के साथ ही शरीर में त्वचा की कोशिकाओं को अंदर से मजबूत करने का काम करता है। यह त्वचा की अलग-अलग परतों को अंदर से पोषण देता है। यह त्वचा को शुष्क होने से भी बचाता है। इसमें मौजूद पोटेशियम ब्लड प्रेशर को सही रखने में मदद करता है व इसमें पाया जाने वाले फॉस्फोरस हड्डियों को मजबूती देने के साथ ही शरीर को ऊर्जा देने का काम करता है।

ਅਜਵਾਇਨ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣ ਲਈ: ਜੇ ਤੁਸੀਂ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣਾ ਚਾਹੁੰਦੇ ਹੋ, ਤਾਂ ਇਸ ਤਰੀਕੇ ਨਾਲ ਸੈਲਰੀ ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਕਰੋ

ਅਜਵਾਇਨ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣ ਲਈ: ਜੇ ਤੁਸੀਂ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣਾ ਚਾਹੁੰਦੇ ਹੋ, ਤਾਂ ਇਸ ਤਰੀਕੇ ਨਾਲ ਸੈਲਰੀ ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਕਰੋ

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

बनारसी आलू पापड़ व्रत में आएंगे आपको बेहद पसंद

ਵਿਸ਼ਵ ਅਪਾਹਜਤਾ ਦਿਵਸ 2019: ਦੇਖਭਾਲ ਦੇ ਇਨ੍ਹਾਂ ਤਰੀਕਿਆਂ ਨੂੰ ਅਪਣਾ ਕੇ ਬੱਚਿਆਂ ਲਈ ਰਾਹ ਅਸਾਨ ਬਣਾਓ

ਵਿਸ਼ਵ ਅਪਾਹਜਤਾ ਦਿਵਸ 2019: ਦੇਖਭਾਲ ਦੇ ਇਨ੍ਹਾਂ ਤਰੀਕਿਆਂ ਨੂੰ ਅਪਣਾ ਕੇ ਬੱਚਿਆਂ ਲਈ ਰਾਹ ਅਸਾਨ ਬਣਾਓ

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

3. नींबू

नींबू में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट्स शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। इसका सेवन हमारे रोग-प्रतिरोधक तंत्र को मजबूत करने के साथ ही सौंदर्य के लिए भी लाभदायक होता है। नींबू को लेकर अक्सर लोगों के मन में भ्रम उत्पन्न हो जाता है कि इसे खाने से सर्दी-जुकाम की समस्या पैदा हो सकती है। यह केवल एक भ्रम है। इसके सेवन से सर्दी-जुकाम की समस्या उत्पन्न नहीं होती, बल्कि यह इनसे राहत ही दिलाता है। नींबू के सेवन से शरीर के लिए आवश्यक विटामिन सी की प्राप्ति होती है। गौरतलब है कि विटामिन सी सौंदर्य निखारने में भी मदद करता है। नींबू का सेवन न केवल शरीर में खून की कमी को दूर करता है, बल्कि यह वजन कम करने में भी सहायक होता है।

ਨੀਂਦ ਦੀ ਘਾਟ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦਾ ਕਾਰਨ ਬਣ ਸਕਦੀ ਹੈ: ਨੀਂਦ ਨਾ ਹੋਣਾ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦੇ ਜੋਖਮ ਨੂੰ ਵਧਾ ਸਕਦਾ ਹੈ!

ਨੀਂਦ ਦੀ ਘਾਟ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦਾ ਕਾਰਨ ਬਣ ਸਕਦੀ ਹੈ: ਨੀਂਦ ਨਾ ਹੋਣਾ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦੇ ਜੋਖਮ ਨੂੰ ਵਧਾ ਸਕਦਾ ਹੈ!

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

4. नट्स

जब हम नट्स की बात करते हैं तो इसमें केवल काजू, बादाम जैसे मेवे ही शामिल नहीं होते हैं, बल्कि नट्स के अंतर्गत मूंगफली और अन्य बहुत से मेवे शामिल होते हैं। मेवे फैट, फाइबर, प्रोटीन का प्रमुख स्रोत होते हैं। मेवों में पाया जाने वाला अधिकतर फैट मोनोअनसैचुरेटेड होता है साथ ही इनमें ओमेगा-6 व ओमेगा-3 पॉलीअनसैचुरेटेड फैट होता है। इनमें सीमित मात्रा में सैचुरेटेड फैट भी पाया जाता है। इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व जैसे विटामिन ई व मैग्नीशियम आदि हृदय रोगों से रक्षा करने में मदद करते हैं। इन्हें फ्राई करने की बजाय भूनकर खाना अधिक फायदेमंद होता है।

ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਰੋਕਥਾਮ ਦਿਵਸ 2019: ਘਰ ਦੀ ਖੂਬਸੂਰਤੀ ਵਧਾਉਣ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ, ਇਹ ਇਨਡੋਰ ਪੌਦੇ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਤੋਂ ਵੀ ਦੂਰ ਰੱਖਣਗੇ

ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਰੋਕਥਾਮ ਦਿਵਸ 2019: ਘਰ ਦੀ ਖੂਬਸੂਰਤੀ ਵਧਾਉਣ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ, ਇਹ ਇਨਡੋਰ ਪੌਦੇ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਤੋਂ ਵੀ ਦੂਰ ਰੱਖਣਗੇ

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

ड्राई फ्रूट्स भी व्रत में खाने के लिए हैं एक बेहतर विकल्प

प्रेग्नेंसी में होने वाले मूड स्विंग्स से निबटने का सबसे आसान उपाय है योग, जानें अन्य फायदे

प्रेग्नेंसी में होने वाले मूड स्विंग्स से निबटने का सबसे आसान उपाय है योग, जानें अन्य फायदे

यह भी पढ़ें

नवरात्री में खाने के लिए इन रोस्टेड मखानों को जरूर करें ट्राई

5. मखाना

आमतौर पर मखाना का नाम आते ही हमारे दिमाग में यह आता है कि इसका सेवन तो व्रत के दौरान किया जाता है। इसका कारण यह है कि व्रत के दौरान जो लोग कुछ भी नहीं खाते हैं, अगर वे एक मुट्ठी मखाना खा लें तो उन्हें दिनभर के लिए जरूरी पोषक तत्व आसानी से मिल जाते हैं। मखाना हाई प्रोटीन से भरपूर होता है। इनके सेवन से शरीर के लिए जरूरी कैलोरी की भी प्राप्ति होती है। मखाने में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स भी पाए जाते हैं। गौरतलब है कि मखाने का सेवन मधुमेह वाले और हृदय रोग से पीडि़त लोग भी कर सकते हैं। कारण, इसमें गुड फैट पाया जाता है, जबकि सैचुरेटेड फैट बहुत कम मात्रा में पाया जाता है।

ਜਵਾਬ ਦੇਵੋ

ਤੁਹਾਡਾ ਈ-ਮੇਲ ਪਤਾ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ਿਤ ਨਹੀਂ ਕੀਤਾ ਜਾਵੇਗਾ। ਲੋੜੀਂਦੇ ਖੇਤਰਾਂ 'ਤੇ * ਦਾ ਨਿਸ਼ਾਨ ਲੱਗਿਆ ਹੋਇਆ ਹੈ।