5 ਕਾਰਨ ਕਿਉਂ ਕਿ ਜੀ ਐਮ ਖੁਰਾਕ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣ ਲਈ ਸਹੀ ਨਹੀਂ ਹੈ


5 ਕਾਰਨ ਕਿਉਂ ਕਿ ਜੀ ਐਮ ਖੁਰਾਕ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣ ਲਈ ਸਹੀ ਨਹੀਂ ਹੈ

ਜੀ ਐੱਮ ਡਾਈਟ ਨੂੰ ਕਿਉਂ ਨਾ ਕਹੋ ਜੀ ਐੱਮ ਡਾਈਟ ਦੀ ਪਾਲਣਾ ਕਰਨੀ ਕਿੰਨੀ ਸਹੀ ਹੈ? ਅਸੀਂ ਤੁਹਾਨੂੰ ਪੰਜ ਚੀਜ਼ਾਂ ਦੱਸ ਰਹੇ ਹਾਂ ਜੋ ਸਾਬਤ ਕਰਦੀਆਂ ਹਨ ਕਿ ਤੁਹਾਨੂੰ ਇਸ ਖੁਰਾਕ ਦੀ ਪਾਲਣਾ ਕਿਉਂ ਨਹੀਂ ਕਰਨੀ ਚਾਹੀਦੀ.

ਨਵੀਂ ਦਿੱਲੀ ਜੀ ਐਮ ਡਾਈਟ ਨੂੰ ਕਿਉਂ ਨਾ ਕਹੋ: जनरल मोटर डाइट प्लान यानि जीएम डाइट, आपको बिना कैलोरी वाला डिटॉक्सिफाइंग खाना खाने की सलाह देता है। इनका दावा है कि अगर आप इसका पालन करेंगे तो सात दिनों में सात किलो तक वज़न कम कर सकते हैं। लेकिन सवाल यह है कि इस डाइट का पालन करना कितना सही है? हम आपको बता रहे हैं पांच ऐसी बातें जो साबित करती हैं कि आपको यह डाइट क्यों नहीं फॉलो करनी चाहिए। 

1. इस सात दिन के डाइट प्लान के नतीजों के किसी तरह के सबूत नहीं हैं। हालांकि, फल और सब्ज़ियां खाना सेहत के साथ वज़न कम करने के काम ज़रूर आता है लेकिन सात दिनों तक सिर्फ फल और सब्ज़ी खाना एक स्वस्थ सलाह नहीं है।

2. वज़न कम करने के लिए फल और सब्ज़ियां खाना सुनने में काफी हेल्दी लगता है लेकिन अगर आप सिर्फ यही खाएंगे तो आपके शरीर में कई ज़रूरी विटामिन, खनिज और पोषक तत्वों की कमी हो जाएगी। प्रोटीन, जो सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों में से एक है, फल और सब्जियों में पर्याप्त मात्रा में मौजूद नहीं होता। पर्याप्त प्रोटीन न खाने से, आपको भूख लगेगी, चक्कर आएंगे और कमजोरी लगने लगेगी। प्रोटीन की कमी से होने वाली अन्य समस्याएं में बालों का झड़ना, एडिमा और मांसपेशियों का कम होना हैं।

3. अमेरिकी हार्ट एसोसिएशन के अनुसार, मटन की बजाय आपको मछली, बीन्स और चिकन खाना चाहिए, क्योंकि इसमें कोलेस्ट्रोल और फैट्स की मात्रा कम होती है। वहीं, जीएम डाइट लोगों को महज़ दो दिन में एक किलो से ज़्यादा मटन खाने की सलाह देता है। जो कि एक इंसान के लिए काफी ज़्यादा है।    

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

यह भी पढ़ें

4. इस तरह की जीएम डाइट का पालन कर आप अगर वज़न कम भी कर लेते हैं तो वह कुछ समय के लिए ही होगा। वह इसलिए क्योंकि आप अचानक अपने खाने से कैलोरी हटा देंगे, जिसके बाद आपका शरीर दूसरी चीज़ों से एनर्जी लेना शुरू कर देता है। शरीर ग्लायकोजन का इस्तेमाल करने लगता है, जो पूरी तरह से पानी से बना है। जिससे आपके शरीर में पानी की भी कमी हो जाती है। आप जैसे ही अपनी नॉर्मल डाइट पर वापस आते हैं, ग्लाकोजन फिर बनने लगता है और आपका वज़न दोबारा बढ़ जाता है।       

ਅਜਵਾਇਨ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣ ਲਈ: ਜੇ ਤੁਸੀਂ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣਾ ਚਾਹੁੰਦੇ ਹੋ, ਤਾਂ ਇਸ ਤਰੀਕੇ ਨਾਲ ਸੈਲਰੀ ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਕਰੋ

ਅਜਵਾਇਨ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣ ਲਈ: ਜੇ ਤੁਸੀਂ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣਾ ਚਾਹੁੰਦੇ ਹੋ, ਤਾਂ ਇਸ ਤਰੀਕੇ ਨਾਲ ਸੈਲਰੀ ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਕਰੋ

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

5. कई अध्ययन यह दावा करते हैं कि अधिकांश डिटॉक्स आहार योजनाएं वास्तव में आपके शरीर को डिटॉक्स नहीं करती हैं। विशेषज्ञों का सुझाव है कि अपने शरीर को डिटॉक्स करने के बजाय, बस एक स्वस्थ आहार और वर्कआउट का पालन करेंगे तो ज़्यादा फायदा मिलेगा।

ਵਿਸ਼ਵ ਅਪਾਹਜਤਾ ਦਿਵਸ 2019: ਦੇਖਭਾਲ ਦੇ ਇਨ੍ਹਾਂ ਤਰੀਕਿਆਂ ਨੂੰ ਅਪਣਾ ਕੇ ਬੱਚਿਆਂ ਲਈ ਰਾਹ ਅਸਾਨ ਬਣਾਓ

ਵਿਸ਼ਵ ਅਪਾਹਜਤਾ ਦਿਵਸ 2019: ਦੇਖਭਾਲ ਦੇ ਇਨ੍ਹਾਂ ਤਰੀਕਿਆਂ ਨੂੰ ਅਪਣਾ ਕੇ ਬੱਚਿਆਂ ਲਈ ਰਾਹ ਅਸਾਨ ਬਣਾਓ

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

खूब सारा पानी पिएं, अपने खाने में सब्ज़ियों और फलों को शामिल करें। इस बात का ख्याल रखें कि आपको पर्याप्त मात्रा में फाइबर और ज़रूरी पोषक तत्व मिल रहे हैं।

ਨੀਂਦ ਦੀ ਘਾਟ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦਾ ਕਾਰਨ ਬਣ ਸਕਦੀ ਹੈ: ਨੀਂਦ ਨਾ ਹੋਣਾ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦੇ ਜੋਖਮ ਨੂੰ ਵਧਾ ਸਕਦਾ ਹੈ!

ਨੀਂਦ ਦੀ ਘਾਟ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦਾ ਕਾਰਨ ਬਣ ਸਕਦੀ ਹੈ: ਨੀਂਦ ਨਾ ਹੋਣਾ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦੇ ਜੋਖਮ ਨੂੰ ਵਧਾ ਸਕਦਾ ਹੈ!

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

ਅਸਵੀਕਾਰਨ: इस लेख में व्यक्त किए गए विचारों को एक डॉक्टर की सलाह के विकल्प के रूप में न मानें। अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने डॉक्टर से सलाह करें।

ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਰੋਕਥਾਮ ਦਿਵਸ 2019: ਘਰ ਦੀ ਖੂਬਸੂਰਤੀ ਵਧਾਉਣ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ ਇਹ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਤੋਂ ਵੀ ਦੂਰ ਰੱਖੇਗੀ, ਇਹ ਇਨਡੋਰ ਪੌਦੇ

ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਰੋਕਥਾਮ ਦਿਵਸ 2019: ਘਰ ਦੀ ਖੂਬਸੂਰਤੀ ਵਧਾਉਣ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ ਇਹ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਤੋਂ ਵੀ ਦੂਰ ਰੱਖੇਗੀ, ਇਹ ਇਨਡੋਰ ਪੌਦੇ

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

ਜਵਾਬ ਦੇਵੋ

ਤੁਹਾਡਾ ਈ-ਮੇਲ ਪਤਾ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ਿਤ ਨਹੀਂ ਕੀਤਾ ਜਾਵੇਗਾ। ਲੋੜੀਂਦੇ ਖੇਤਰਾਂ 'ਤੇ * ਦਾ ਨਿਸ਼ਾਨ ਲੱਗਿਆ ਹੋਇਆ ਹੈ।