पानी में हल्दी मिलाकर पीने से होते हैं यह 7 अचूक फायदे


पानी में हल्दी मिलाकर पीने से होते हैं यह 7 अचूक फायदे

हल्दी सिर्फ शुभता का प्रतीक ही नहीं बल्कि हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने में भी इसकी अहम भूमिका है। मोटापा कम करने से लेकर सौंदर्य बढ़ाने में फायदेमंद है हल्दी

हल्दी में प्राकृतिक रूप से एंटीइंफ्लेमटरी और एंटीऑक्सीडेंट्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसकी वजह से इसका सेवन हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। हल्दी में मौजूद करक्यूमिन नामक पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट हमारी कोशिकाओं को नष्ट होने से रोकता है और नई कोशिकाओं के निर्माण में तेजी लाकर एजिंग की रफ्तार को धीमा करता है।

दिमाग को बनाता है तेज

गुनगुना हल्दी वाला पानी पीने से दिमाग तेज होता है। सुबह के समय हल्दी का गुनगुना पानी पीने से दिमाग तेज और एक्टिव होता है।

जलन और सूजन करे कम

शरीर में किसी भी तरह की सूजन हो और वह किसी दवाई से ना ठीक हो रही हो तो आप हल्दी वाला पानी का सेवन करें। हल्दी में पाया जाने वाला कुर्कुमिन तत्व सूजन और जोड़ों में होने वाले असाह्य दर्द को ठीक कर देता है। सूजन की अचूक दवा है हल्दी का पानी।  

लिवर फंक्शन को सुधारे

लिवर की समस्या से परेशान लोगों के लिए हल्दी का पानी किसी औषधि से कम नहीं है। हल्दी के पानी में टॉक्सिस लीवर के सेल्स को फिर से ठीक करता है। हल्दी और पानी के मिले हुए गुण लीवर को संक्रमण से भी बचाते हैं।

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

हेल्दी माइंड के लिए न करें इन 3 बातों को इग्नोर

यह भी पढ़ें

हार्ट प्रॉब्लम का इलाज

हार्ट की समस्या से परेशान लोगों को हल्दी वाला पानी पीना चाहिए। हल्दी खून को गाढ़ा होने से बचाती है। जिससे हार्ट अटैक की संभावना कम हो जाती है।

ਅਜਵਾਇਨ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣ ਲਈ: ਜੇ ਤੁਸੀਂ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣਾ ਚਾਹੁੰਦੇ ਹੋ, ਤਾਂ ਇਸ ਤਰੀਕੇ ਨਾਲ ਸੈਲਰੀ ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਕਰੋ

ਅਜਵਾਇਨ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣ ਲਈ: ਜੇ ਤੁਸੀਂ ਭਾਰ ਘਟਾਉਣਾ ਚਾਹੁੰਦੇ ਹੋ, ਤਾਂ ਇਸ ਤਰੀਕੇ ਨਾਲ ਸੈਲਰੀ ਦੀ ਵਰਤੋਂ ਕਰੋ

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

सौंदर्य बढ़ाने में कारगर

ਵਿਸ਼ਵ ਅਪਾਹਜਤਾ ਦਿਵਸ 2019: ਦੇਖਭਾਲ ਦੇ ਇਨ੍ਹਾਂ ਤਰੀਕਿਆਂ ਨੂੰ ਅਪਣਾ ਕੇ ਬੱਚਿਆਂ ਲਈ ਰਾਹ ਅਸਾਨ ਬਣਾਓ

ਵਿਸ਼ਵ ਅਪਾਹਜਤਾ ਦਿਵਸ 2019: ਦੇਖਭਾਲ ਦੇ ਇਨ੍ਹਾਂ ਤਰੀਕਿਆਂ ਨੂੰ ਅਪਣਾ ਕੇ ਬੱਚਿਆਂ ਲਈ ਰਾਹ ਅਸਾਨ ਬਣਾਓ

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

जब हल्दी के पानी में नींबू और शहद मिलाया जाता है तब यह शरीर के अंदर जमे हुए विषैले पदार्थों को निकाल देता है जिसे पीने से शरीर पर बढ़ती हुई उम्र का असर नहीं पड़ता है। हल्दी में फ्री रेडिकल्स होते हैं जो सेहत के साथ सौंदर्य को भी बढ़ाते हैं।

डाइजेशन के लिए अच्छा

ਨੀਂਦ ਦੀ ਘਾਟ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦਾ ਕਾਰਨ ਬਣ ਸਕਦੀ ਹੈ: ਨੀਂਦ ਨਾ ਹੋਣਾ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦੇ ਜੋਖਮ ਨੂੰ ਵਧਾ ਸਕਦਾ ਹੈ!

ਨੀਂਦ ਦੀ ਘਾਟ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦਾ ਕਾਰਨ ਬਣ ਸਕਦੀ ਹੈ: ਨੀਂਦ ਨਾ ਹੋਣਾ ਦਿਲ ਦੇ ਦੌਰੇ ਦੇ ਜੋਖਮ ਨੂੰ ਵਧਾ ਸਕਦਾ ਹੈ!

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

हल्दी का इस्तेमाल काफी समय से पाचन क्रिया को सुधारने के लिए किया जा रहा है। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स और एंटी-इंन्फ्लेमेटरी तत्व इसके लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। इसके अलावा ब्लॉटिंग और गैस की प्रॉब्लम भी हल्दी के सेवन से होती है दूर।

ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਰੋਕਥਾਮ ਦਿਵਸ 2019: ਘਰ ਦੀ ਖੂਬਸੂਰਤੀ ਵਧਾਉਣ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ ਇਹ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਤੋਂ ਵੀ ਦੂਰ ਰੱਖੇਗੀ, ਇਹ ਇਨਡੋਰ ਪੌਦੇ

ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਰੋਕਥਾਮ ਦਿਵਸ 2019: ਘਰ ਦੀ ਖੂਬਸੂਰਤੀ ਵਧਾਉਣ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ ਇਹ ਪ੍ਰਦੂਸ਼ਣ ਤੋਂ ਵੀ ਦੂਰ ਰੱਖੇਗੀ, ਇਹ ਇਨਡੋਰ ਪੌਦੇ

ਵੀ ਪੜ੍ਹੋ

इम्युनिटी पावर बढ़ाता है

हल्दी एंटी-बैक्टीरियल, एंटीवायरल, एंटी-फंगल जैसे तत्वों से भी भरपूर होता है। अगर आप रोजाना गुनगुने दूध में हल्दी मिलाकर पीते हैं तो सर्दी-जुकाम, कई तरह के इन्फेक्शन के साथ ही कैंसर जैसी बीमारियों की संभावनाओं को भी काफी हद तक कम किया जा सकता है।

प्रेग्नेंसी में होने वाले मूड स्विंग्स से निबटने का सबसे आसान उपाय है योग, जानें अन्य फायदे

प्रेग्नेंसी में होने वाले मूड स्विंग्स से निबटने का सबसे आसान उपाय है योग, जानें अन्य फायदे

यह भी पढ़ें

मोटापा करता है कम 

हल्दी का सेवन करके आप मोटापे की समस्या से भी पा सकते हैं राहत। इसका करक्यूमिन तत्व बॉ़डी में आसानी से घुल जाता है और शरीर में फैट बढ़ाने वाले टिश्यू को बनने से रोकता है। 

दर्द से राहत

हल्दी शरीर के किसी भी अंग में होने वाले दर्द को दूर करने में है कारगर। हड्डी टूट जाने पर, मोच आने या किसी अंदरूनी चोट के दर्द से छुटकारा पाने के लिए गर्म दूध में हल्दी मिलाकर पीना बहुत ही फायदेमंद होता है। वैसे हल्दी एल डी एल कोलेस्ट्रॉल को भी कम करता है जिससे हृदय संबंधी रोगों का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है।

बढ़ती उम्र के असर को करें कम

हल्दी के रोजाना इस्तेमाल से आप बढ़ती उम्र के असर को भी कर सकते हैं कम। फेसपैक में इस्तेमाल करने के साथ ही दूध में मिलाकर पीना भी स्किन के लिए बहुत ही फायदेमंद रहेगा। 

 

ਜਵਾਬ ਦੇਵੋ

ਤੁਹਾਡਾ ਈ-ਮੇਲ ਪਤਾ ਪ੍ਰਕਾਸ਼ਿਤ ਨਹੀਂ ਕੀਤਾ ਜਾਵੇਗਾ। ਲੋੜੀਂਦੇ ਖੇਤਰਾਂ 'ਤੇ * ਦਾ ਨਿਸ਼ਾਨ ਲੱਗਿਆ ਹੋਇਆ ਹੈ।